Parde Ki Baat Parde Me Rahe To, Song Lyrics

Suman Kalyanpur Song Song Lyrics

Parde Ki Baat Parde Me Rahe To, Song Lyrics from Movie Night In Calcutta. This Song sung by Suman Kalyanpur, Usha Khanna, Mohammed Rafi. Music given by Usha Khanna & Lyrics written by Asad Bhopali. Star cast of this movie are Sanjeev Kumar, Simi, Bhagwan, Samson

Movie Details

Movie: Night In Calcutta

Singer/Singers: Suman Kalyanpur, Usha Khanna, Mohammed Rafi

Music Director: Usha Khanna

Lyricist: Asad Bhopali

Actors/Actresses: Sanjeev Kumar, Simi, Bhagwan, Samson

Year/Decade: 1970

Music Label: Saregama Music

Song Lyrics in English Text

Parde Ki Baat Parde Me Rahe To Accha Hai
Parde Ki Baat Parde Me Rahe To Accha Hai
Na Tum Ajnabi Na Hum Ajnabi
Na Tum Ajnabi Na Hum Ajnabi
Parde Ki Baat Parde Me Rahe To Accha Hai
Parde Ki Baat Parde Me Rahe To Accha Hai

Husn Jaga Hua Raat Madhosh Hai
Dard Hai Jiske Dil Me Wo Khamosh Hai
Husn Jaga Hua Raat Madhosh Hai
Dard Hai Jiske Dil Me Wo Khamosh Hai
Jo Humko Kahna Tha Wo Humne Kah Diya
Jo Humko Kahna Tha Wo Humne Kah Diya
Parde Ki Baat Parde Me Rahe To Accha Hai
Parde Ki Baat Parde Me Rahe To Accha Hai

Rang Kyu Ud Gaya Aankh Kyu Jhuk Gayi
Kaun Se Mod Par Zindagi Ruk Gayi
Rang Kyu Ud Gaya Aankh Kyu Jhuk Gayi
Kaun Se Mod Par Zindagi Ruk Gayi
Jo Humko Kahna Tha Wo Humne Kah Diya
Jo Humko Kahna Tha Wo Humne Kah Diya
Parde Ki Baat Parde Me Rahe To Accha Hai
Parde Ki Baat Parde Me Rahe To Accha Hai
Na Tum Ajnabi Na Hum Ajnabi
Na Tum Ajnabi Na Hum Ajnabi
Parde Ki Baat Parde Me Rahe To Accha Hai
Parde Ki Baat Parde Me Rahe To Accha Hai

Song Lyrics in Hindi Text

परदे की बात परे मे रहे तो अच्छा हैं.
परदे की बात परदे में रहें तो अच्छा हैं.
ना तुम अजनबी ना हम अजनबी
ना तुम अजनबी ना हम अजनबी
परदे की बात परदे मे रहे तो अच्छा हैं.
परदे की बात पे में रहें तो अच्छा हैं.
हुम्न जागा हुआ रात मदहोश हैं
दर्द हैं जिसके दिल में वो खामोश में
हुम्न जागा हुआ रात मदहोश हैं
दर्द हैं जिसके दिल में वो खामोश में
जो हमको कहना था वो हमने कह दिया
जो हमको कहना था वो हमने कह दिया
परदे की बात पे मे रहे तो अच्छा हैं
परदे की बात पे में रहें तो अच्छा हैं.
रंग क्यों उड़ गया आँल क्यों झूक गई
कौन से मोड़ पर ज़िन्दगी रुक गई
ओ रंग क्यों उड़ गया आँख क्यों झुक गई
कौन से मोड़ पर ज़िन्दगी रुक गई
जो हमको कहना था वो हमने कह दिया
जो हमको कहना था वो हमने कह दिया
परदे की बात परे मे रहे तो अच्छा हैं.
परदे की बात परदे में रहें तो अच्छा हैं.
ना तुम अजनबी ना हम अजनबी
ना तुम अजनबी ना हम अजनबी
परदे की बात पढे मे रहे तो अच्छा हैं.
परदे की बात परे में रहें तो अच्छा हैं.