Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani, Song Lyrics

Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Song Lyrics

Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani, Song Lyrics from Movie Khandan. This Song sung by Usha Mangeshkar, Asha Bhosle, Mohammed Rafi. Music given by Ravi & Lyrics written by Rajendra Krishan. Star cast of this movie are Sunil Dutt, Nutan, Pran, Om Prakash, Lalita Pawar, Helen and Mumtaz

Movie Details

Movie: Khandan

Singer/Singers: Usha Mangeshkar, Asha Bhosle, Mohammed Rafi

Music Director: Ravi

Lyricist: Rajendra Krishan

Actors/Actresses: Sunil Dutt, Nutan, Pran, Om Prakash, Lalita Pawar, Helen and Mumtaz

Year/Decade: 1965

Music Label: Saregama Music

Song Lyrics in English Text

Do Din Ka Jhutha Pyar Jaga Ke
Chalaa Gaya Ek Baabu
Koi Bata De Kaise Rakhu Apne Dil Par Kaabu
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam
Koi Samjhe Naa Meri Kahaani Haaye Raam
Koi Samjhe Naa Meri Kahaani Haaye Raam
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam

Khilaata Tha Pyar Se Banaaras Ka Paan
Ho Ghadi Ghadi Kahta Tha Haaye Meri Jaan
Khilaata Tha Pyar Se Banaaras Ka Paan
Ho Ghadi Ghadi Kahta Tha Haaye Meri Jaan
Yaad Aati Hai Uski Mithi Jubaan
Yaad Aati Hai Uski Mithi Jubaan
To Ro Ro Ke Kahta Hai Dil Naadan Kyaa
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam
Koi Samjhe Naa Meri Kahaani Haaye Raam
Koi Samjhe Naa Meri Kahaani Haaye Raam
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam

Abhi To Hai Mushkil Se Do Din Ki Baat
Ki Saiya Ke Pahlu Me Katati Thi Raat
Abhi To Hai Mushkil Se Do Din Ki Baat
Ki Saiya Ke Pahlu Me Katati Thi Raat
Mai To Samjhi Thi Saari Umar Ka Hai Saath
Mai To Samjhi Thi Saari Umar Ka Hai Saath
Pata Kya Tha Aisi Hai Mardo Ki Jaat
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam
Koi Samjhe Naa Meri Kahaani Haaye Raam
Koi Samjhe Naa Meri Kahaani Haaye Raam
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam

Naa Hota Agar Chaar Aankho Ka Mel
Judaayi Ki Hoti Naa Lambi Ye Jail
Naa Hota Agar Chaar Aankho Ka Mel
Judaayi Ki Hoti Naa Lambi Ye Jail
O Pada Kitana Mahanga Mohabbat Ka Khel
O Pada Kitana Mahanga Mohabbat Ka Khel
Ye Kahata Hai Bah Bah Ke Julfo Ka Khel
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam
Koi Samjhe Naa Meri Kahaani Haaye Raam
Koi Samjhe Naa Meri Kahaani Haaye Raam
Meri Mitti Me Mil Gayi Jawaani Haaye Raam

Song Lyrics in Hindi Text

दो दिन झूठा प्यार जगा के
चला गया एक बाबू

कोई बता दे कैसे रखूँ अपने दिल पर काबू
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम

कोई समझे ना मेरी कहानी हाय राम

कोई समझे ना मेरी कहानी हाय राम
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम

ब्िलाता था प्यार से बनारस के पान
हो घड़ी घड़ी कहता था हाय मेरी जान
ब्िलाता था प्यार से बनारस के पान
हो घड़ी घड़ी कहता था हाय मेरी जान
याद आती है जब उसकी मीठी जुबान
याद आती है जब उसकी मीठी जुबान
तो रो रो के कहता है दिल नादान क्या
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम
मेरी मिट्टी में मिल गई जवानी हाव राम
कोई समझे ना मेरी कहानी हाय राम
कोई समझे ना मेरी कहानी हाय राम
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम

अभी तो है मुश्किल से दो दिन की बात
की तैयाँ के पहलू में कटती थी रात
अभी तो है मुश्किल से दो दिन की बात
की तैयाँ के पहलू में कटती थी रात
मैं तो समझी थी सारी उम्र का है साथ
मैं तो समझी थी सारी उम्र का है साथ
पता क्या था ऐसी है मर्दों की जात.
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम
कोई समझे ना मेरी कहानी हाय राम
कोई समझे ना मेरी कहानी हाय राम
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम

ना होता अगर चार आँखों का मेल
जुदाई की होती ना लम्बी ये जेल
ना होता अगर चार आँखों का मेल
जुदाई की होती ना लम्बी ये जेल
ओ पड़ा कितना महँगा मोहब्बत का खेल
ओ पड़ा कितना महँगा मोहब्बत का खेल
ये कहता है बह बह के जुल्फों का तेल
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम
कोई समझे ना मेरी कहानी हाय राम
कोई समझे ना मेरी कहानी हाय राम
मेरी मिट॒टी में मिल गई जवानी हाव राम