Hum Intezaar Karenge Lyrics

Song Lyrics from the movie Bahu Begum starring Ashok Kumar, Meena Kumari, Pradeep Kumar, Naaz, Zeb Rehman, Helen, Johny Whiskey, Lalita Pawar, Johnny Walker. The film was released in the year 1967. Music was composed by Roshan and lyrics were penned by Sahir Ludhianvi.

Movie Details

Movie: Bahu Begum

Singer/Singers: Asha Bhosle, Lata Mangeshkar, Manna Dey, Mohammed Rafi

Music Director: Roshan

Lyricist: Sahir Ludhianvi

Actors/Actresses: Ashok Kumar, Meena Kumari, Pradeep Kumar, Naaz, Zeb Rehman, Helen, Johny Whiskey, Lalita Pawar, Johnny Walker

Year/Decade: 1967

Music Label: Saregama India Limited

Song Lyrics in English Text

Hum Intzaar Karenge Hum Intzaar Karenge
Tera Kayamat Tak
Khuda Kare Ke Kayamat Ho Aur Tu Aaye
Khuda Kare Ke Kayamat Ho Aur Tu Aaye
Hum Intzaar Karenge

Ye Intzaar Bhi Ek Imtiha Hota Hai
Isise Ishq Ka Shola Jawan Hota Hai
Ye Intzaar Salamat Ho Ye Intzaar Salamat Ho
Aur Tu Aaye
Khuda Kare Ke Kayamat Ho Aur Tu Aaye
Hum Intzaar Karenge

Bichhaye Shauq Se Khud Hi Bewafa Ki Raaho Me
Khade Hai Dip Ki Hasrat Liye Nigaho Me
Kabul-e-dil Ki Ibadat Ho Kabul-e-dil Ki Ibadat Ho
Aur Tu Aaye
Khuda Kare Ke Kayamat Ho Aur Tu Aaye
Hum Intzaar Karenge

Wo Kushnasib Hai Jisko Tu Intkaab Kare
Wo Kushnasib Hai Jisko Tu Intkaab Kare
Khuda Hamari Mohabbat Ko Kamyaab Kare
Jawa Sitara-e-kismat Ho Jawa Sitara-e-kismat Ho
Aur Tu Aaye
Khuda Kare Ke Kayamat Ho Aur Tu Aaye
Hum Intzaar Karenge

Song Lyrics in Hindi Text

हम इंतज़ार करेंगे (२) क़यामत तक
खुदा करे कि क़यामत हो, और तू आए (२)
हम इंतज़ार करेंगे …

न देंगे हम तुझे इलज़ाम बेवफ़ाई का
मगर गिला तो करेंगे तेरी जुदाई का
तेरे खिलाफ़ शिकायत हो (२) और तू आए
खुदा करे के कयामत हो, और तू आए
हम इंतज़ार करेंगे …

ये ज़िंदगी तेरे कदमों में डाल जाएंगे
तुझी को तेरी अमानत सम्भाल जाएंगे
हमारा आलम-ए-रुखसत हो (२) और तू आए

बुझी-बुझी सी नज़र में तेरी तलाश लिये
भटकते फिरते हैं हम आज अपनी लाश लिये
यही ज़ुनून यही वहशत हो (२) और तू आए

Duet Version

हम इंतज़ार करेंगे
हम इंतज़ार करेंगे तेरा क़यामत तक
ख़ुदा करे कि क़यामत हो, और तू आए -२
हम इंतज़ार करेंगे…

ये इंतज़ार भी एक इम्तिहां होता है
इसीसे इश्क़ का शोला जवां होता है
ये इंतज़ार सलामत हो
ये इंतज़ार सलामत हो और तू आए
ख़ुदा करे कि क़यामत हो, और तू आए
हम इंतज़ार करेंगे…

बिछाए शौक़ से, ख़ुद बेवफ़ा की राहों में
खड़े हैं दीप की हसरत लिए निगाहों में
क़बूल-ए-दिल की इबादत हो
क़बूल-ए-दिल की इबादत हो और तू आए
ख़ुदा करे कि क़यामत हो, और तू आए
हम इंतज़ार करेंगे…

वो ख़ुशनसीब है जिसको तू इंतख़ाब करे
ख़ुदा हमारी मोहब्बत को क़ामयाब करे
जवां सितारा-ए-क़िस्मत हो
जवां सितारा-ए-क़िस्मत हो और तू आए

ख़ुदा करे कि क़यामत हो, और तू आए
हम इंतज़ार करेंगे…