Dil Ke Jazbat Mohabbat Ki Song Lyrics

Dil Ke Jazbat Mohabbat Ki Khushi Lyrics

Dil Ke Jazbat Mohabbat Ki Khushi Aapse Hai, Song Lyrics from Movie Alibaba & 40 Thieves. This Song sung by Mohammed Rafi, Suman Kalyanpur, Usha Mangeshkar, Asha Bhosle. Music given by Usha KhannaExternal Links: Alibaba & 40 Thieves at IMDB Alibaba & 40 Thieves at Wikipedia & Lyrics written by Javed Anwar, Asad Bhopali, Prem Dhawan. Star cast of this movie are Sanjeev Kumar, L. Vijayalaxmi, S.N. Tripathi, Veena, Amarnath B.M. Vyas, David Abraham, Indira, Tabassum

Movie Details

Movie: Alibaba & 40 Thieves

Singer/Singers: Mohammed Rafi, Suman Kalyanpur, Usha Mangeshkar, Asha Bhosle

Music Director: Usha KhannaExternal Links: Alibaba & 40 Thieves at IMDB Alibaba & 40 Thieves at Wikipedia

Lyricist: Javed Anwar, Asad Bhopali, Prem Dhawan

Actors/Actresses: Sanjeev Kumar, L. Vijayalaxmi, S.N. Tripathi, Veena, Amarnath B.M. Vyas, David Abraham, Indira, Tabassum

Year/Decade: 1966

Music Label: Saregama Music

Song Lyrics in English Text

Dil Ke Jazbat Mohabbat Ki Khushi Aapse Hai
Jindagi Aapse Hai Zindadili Aap Se Hai

Jab Aap Salamat Hai Jab Aap Salamat Hai
Phir Hamko Kami Kya Hai Jab Aap Salamat Hai
Phir Hamko Kami Kya Hai
Sab Aapka Sadka Hai Sab Aapka Sadka Hai
Gam Kya Hai Khushi Kya Hai
Jab Aap Salamat Hai Phir Hamko Kami Kya Hai
Jab Aap Salamat Hai

Sab Shikve Mite Dil Ke Aapas Me Gale Mil Ke
Sab Shikve Mite Dil Ke Aapas Me Gale Mil Ke
Sab Shikve Shikve Shikve
Sab Shikve Mite Dil Ke Aapas Me Gale Mil Ke
Ho Aap Agar Bhul Gaye Hai To Koi Bat Nahi
Ye Mulakat Magar Pehli Mulkat Nahi
Muh Chupane Se Nahi Chupte Fasane Dil Ke
Muh Chupane Se Nahi Chupte Fasane Dil Ke
Hamko Malum Hai Kya Baat Hai
Kya Baat Nahi
Hamko Malum Hai Kya Baat Hai
Kya Baat Nahi
Sab Shikve Mite Dil Ke Aapas Me Gale Mil Ke
Sab Shikve Mite Dil Ke Aapas Me Gale Mil Ke
Ab Chodiye Sharmana Ab Bat Rahi Kya Hai
Ab Chodiye Sharmana Ab Bat Rahi Kya Hai
Sab Aap Ka Sadka Hai Sab Aap Ka Sadka Hai
Gham Kya Hai Khushi Kya Hai
Jab Aap Salamat Hai Phir Hamko Kami Kya Hai
Jab Aap Salamat Hai

Ho Aaj Mukhatib Hai Halat Munasib Hai
Ho Aaj Mukhatib Hai Halat Munasib Hai
Phirungi Aaj Idhar Meharbani Ki Najar
Dekhkar Unki Hasi Jindagi Jhum Uthi
Bekhudi Chane Lagi Nind Bhi Ane Lagi
Kaise Khamosh Rahe Hale Dil Kyu Na Kahe
Kaise Khamosh Rahe Hale Dil Kyu Na Kahe
Vo Aj Muhasib Hai Halat Munasib Hai
Vo Aj Muhasib Hai Halat Munasib Hai
Kyu Ae Dile Diwana Ab Teri Khushi Kya Hai
Kyu Ae Dile Diwana Ab Teri Khushi Kya Hai
Sab Aap Ka Sadka Hai Sab Aap Ka Sadka Hai
Gham Kya Hai Khushi Kya Hai
Jab Aap Salamat Hai Phir Hamko Kami Kya Hai
Jab Aap Salamat Hai

Song Lyrics in Hindi Text

दिल के जज़्बात मोहब्बत
की ख़ुशी आपसे है
ज़िन्दगी आपसे है ज़िंदा
दिली आप से है

जब आप सलामत है
जब आप सलामत है
फिर हमको कमी क्या है
जब आप सलामत है
फिर हमको कमी क्या है
सब आपका सदक़ा है
सब आपका सदक़ा है
ग़म क्या है ख़ुशी क्या है
जब आप सलामत है
फिर हमको कमी क्या है
जब आप सलामत है

सब सिक्वे मिठे दिल के
आपस में गले मिल के
सब सिक्वे मिठे दिल के
आपस में गले मिल के
सब शिकवे शिकवे शिकवे
सब सिक्वे मिठे दिल के
आपस में गले मिल के
हो आप अगर भूल गए
है तो कोई बात नहीं
यह मुलाकात मगर
पहली मुलाकात नहीं
मुँह छुपा ने से नहीं
छुपते ख़फ़ा दे दिल के
मुँह छुपा ने से नहीं
छुपते ख़फ़ा दे दिल के
हमको मालूम है
क्या बात है
क्या बात नहीं
हमको मालूम है
क्या बात है
क्या बात नहीं
सब सिक्वे मिठे दिल के
आपस में गले मिल के
सब सिक्वे मिठे दिल के
आपस में गले मिल के
अब छोडिये शर्मना
अब बात रही क्या है
अब छोडिये शर्मना
अब बात रही क्या है
सब आप का सदका है
सब आप का सदका है
ग़म क्या है ख़ुशी क्या है
जब आप सलामत है
फिर हमको कमी क्या है
जब आप सलामत है

हो आज मोहसीब है
हालत मुनासिब है
हो आज मोहसीब है
हालत मुनासिब है
फिरंगी आज इधर
मेहरबानी की नजर
देख कर उनकी हसि
जिंदगी झूम उठी
बेखुदी छा ने लगी
नींद भी आने लगी
कैसे खामोश रहे
हाले दिल क्यों न कहे
कैसे खामोश रहे
हाले दिल क्यों न कहे
वो आज मुहासिब है
हालत मुनासिब है
वो आज मुहासिब है
हालत मुनासिब है
क्यों ऐ दिल दीवाना
अब तेरी ख़ुशी क्या है
क्यों ऐ दिल दीवाना
अब तेरी ख़ुशी क्या है
सब आप का सदका है
सब आप का सदका है
ग़म क्या है ख़ुशी क्या है
जब आप सलामत है
फिर हमको कमी क्या है
जब आप सलामत है.