Apne Suro Me Mere Suro Song Lyrics

Apne Suro Me Mere Suro Song Lyrics

Apne Suro Me Mere Suro Ko Basa Lo Ye Geet Amar Ho Jaaye, Song Lyrics from Movie Dil Ki Rahen. This Song sung by Lata Mangeshkar, Manna Dey, Usha Mangeshkar. Music given by Madan Mohan & Lyrics written by Naqsh Lyallpur. Star cast of this movie are Rakesh Pandey, Rehana Sultan, Sulochana, Johny Whiskey, Dilip Dutt, Amrit Lakhan pal

Movie Details

Movie: Dil Ki Rahen

Singer/Singers: Lata Mangeshkar, Manna Dey, Usha Mangeshkar

Music Director: Madan Mohan

Lyricist: Naqsh Lyallpur

Actors/Actresses: Rakesh Pandey, Rehana Sultan, Sulochana, Johny Whiskey, Dilip Dutt, Amrit Lakhan pal

Year/Decade: 1973

Music Label: Saregama Music

Song Lyrics in English Text

Apne Suro Me Mere Suro Ko Basa Lo
Apne Suro Me Mere Suro Ko Basa Lo
Ye Geet Amar Ho Jaye Ye Geet Amar Ho Jaye
Apne Suro Me Mere Suro Ko Basa Lo
Ye Geet Amar Ho Jaye Ye Geet Amar Ho Jaye
Bol Rasile Hotho Pe Aise Saja Lo
Ye Geet Amar Ho Jaye Ye Geet Amar Ho Jaye
Apne Suro Me Mere Suro Ko Basa Lo

Jadu Jaage Sur Sargam Ka Aashao Ka Rup Khile
Jadu Jaage Sur Sargam Ka Aashao Ka Rup Khile
Do Hai Rahe Sukh Sapno Ki Har Pal Sheetal Dup Khile
Tum Sangeet Ko Jivan Meet Bana Lo
Tum Sangeet Ko Jivan Meet Bana Lo
Ye Geet Amar Ho Jaye Ye Geet Amar Ho Jaye
Apne Suro Me Mere Suro Ko Basa Lo

Jhum Uthe Ye Sanjh Ki Bela
Jhum Uthe Ye Sanjh Ki Bela Ras Ki Bunde Barsao
Lahke Mahke Jivan Bagiya Aisi Kaliya Bikhrao
Sawan Ke Tum Sare Rang Chura Lo
Sawan Ke Tum Sare Rang Chura Lo
Ye Geet Amar Ho Jaye Ye Geet Amar Ho Jaye
Apne Suro Me Mere Suro Ko Basa Lo

Song Lyrics in Hindi Text

अपने सुरों में मेरे
सुरों को बसा लो
अपने सुरों में मेरे
सुरों को बसा लो
यह गीत अमर हो जाए
यह गीत अमर हो जाए
अपने सुरों में मेरे
सुरों को बसा लो
यह गीत अमर हो जाए
यह गीत अमर हो जाए
बोल रसीले होठों
पे ऐसे सजा लो
यह गीत अमर हो जाये
यह गीत अमर हो जाये
अपने सुरों में मेरे
सुरों को बसा लो

जादू जगे सुर सरगम का
आशाओं का रूप खिले जादु जगे
जादू जगे सुर सरगम का
आशाओं का रूप खिले
दो है रहे सुख सपनो की
हर पल शीतल दूप खिले
तुम संगीत को जीवन
मीट बना लो
तुम संगीत को जीवन
मीट बना लो
यह गीत अमर हो जाये
यह गीत अमर हो जाये
अपने सुरों में मेरे
सुरों को बसा लो

झूम उठे यह
सान्ग की बेला
झूम उठे यह
सान्ग की बेला
बरसाती बुँदे बरसाओ
लेहके महके जीवन में
ऐसी कलिया बिखराओ
सावन के तुम सारे
रंग चुरा लो
सावन के तुम सारे
रंग चुरा लो
यह गीत अमर हो जाये
यह गीत अमर हो जाये
अपने सुरों में मेरे
सुरों को बसा लो

धीमी धीमी लेय पर व्याकुल
धड़कन को भी गाने दो
धीमी धीमी
धीमी धीमी लेय पर व्याकुल
धड़कन को भी गाने दो
आज मिलान के आँगन में
तुम उजियारा हो जाने दो
मन के द्वारे प्रीत
के गीत जला लो
मन के द्वारे प्रीत
के गीत जला लो
यह गीत अमर हो जाये
यह गीत अमर हो जाये
अपने सुरों में मेरे
सुरों को बसा लो
यह गीत अमर हो जाये
यह गीत अमर हो जाये
अपने सुरों में मेरे
सुरों को बसा लो.