Antar Mantar Jantar Se Maidan Liya Hai Maar, Song Lyrics

Antar Mantar Jantar Se Maidan Liya Hai MaarSong Lyrics

Antar Mantar Jantar Se Maidan Liya Hai Maar, Song Lyrics from Movie Rajhath. This Song sung by Lata Mangeshkar, Mohammed Rafi, Mukesh, Manna De, Usha Mangeshkar. Music given by Shankar Jaikishan & Lyrics written by Hasrat Jaipuri, Shailendra. Star cast of this movie are Pradeep Kumar, Madhubala, Ulhas, Sohrab Modi, Tiwari

Movie Details

Movie: Rajhath

Singer/Singers: Lata Mangeshkar, Mohammed Rafi, Mukesh, Manna De, Usha Mangeshkar

Music Director: Shankar Jaikishan

Lyricist: Hasrat Jaipuri, Shailendra

Actors/Actresses: Pradeep Kumar, Madhubala, Ulhas, Sohrab Modi, Tiwari

Year/Decade: 1956

Music Label: Saregama Music

Song Lyrics in English Text

Antar Mantar Jantar Se Maidaan Liyaa Hai Maar
Antar Mantar Jantar Se Maidaan Liyaa Hai Maar

Jab Aayaa Darvaazaa Pahala Hamane Use Dhakela
Khulte Hi Darvaazaa Dekhaa Ujiyaro Ka Mela
Raste Me Ek Burzi Dekhi Dhokhaa Dekhe Vaali
Raste Me Ek Burzi Dekhi Dhokhaa Dekhe Vaali
Us Burzi Ke Paas Gai To Saamane Dekhi Jaali
Antar Mantar Jantar Se
Chhod Ke Burzi Badhe Aage Ham Bhi The Hushiyaar
Hath Mei Hai Takdir Ka Naksha Ho Gya Beda Paar
Antar Mantar Jantar Se
Antar Mantar Jantar Se Maidaan Liyaa Hai Maar
Antar Mantar Jantar Se Maidaan Liyaa Hai Maar

Jab Dujaa Darvaazaa Aayaa Us Par Dekhaa Taalaa
Akal Ki Chaabi Laga Ke Hamne Maze Se Kholaa Talaaa
Phir Dekhe Chaubaare Jin Par Thaa Andhiyaaraa
Phir Dekhe Chaubaare Jin Par Thaa Andhiyaaraa
Dur Kahi Par Khidki Chamki Jyun Badli Me Taaraa
Antar Mantar Jantar Se
Aashaao Ke Dip Jalaae Ham Bhi Ho Gaye Paar
Hath Mei Hai Takdir Ka Naksha Ho Gya Beda Paar
Antar Mantar Jantar Se
Antar Mantar Jantar Se Maidaan Liyaa Hai Maar
Antar Mantar Jantar Se Maidaan Liyaa Hai Maar

Gairo Ke Mahal Me Pahunche Bhed Churakar Laay
Sab Darvaaze Chor Bane The Choro Se Takaraay
Chakkar Ne Sau Chakkar Daale Phir Bhi Naa Ghabaraay
Jaise Chal Kar Ham Pahunche The Vaise Vaapas Aay
Antar Mantar Jantar Se
Apni Manzil Jit Ke Aay Naa Maane Ham Haar
Hath Mei Hai Takdir Ka Naksha Ho Gya Beda Par
Antar Mantar Jantar Se
Antar Mantar Jantar Se Maidaan Liyaa Hai Maar
Antar Mantar Jantar Se Maidaan Liyaa Hai Maar

Song Lyrics in Hindi Text

अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार
हाथ में है तक़दीर का
नक्शा हो गया बेड़ा पार
अंतर मंतर जंतर से
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार

जब आया दरवाज़ा
पहला हमने उसे
धकेला खुलते ही दरवाज़ा
देखा उजियारो का मेला
रस्ते में इक बुर्ज़ी देखि
धोखा देखे वाली
रस्ते में इक बुर्ज़ी देखि
धोखा देखे वाली
उस बुर्ज़ी के पास गए
तो सामने देखि जाली
अंतर मंतर जंतर से
छोड़ के बुर्ज़ी बढे आगे
हम भी थे हुशियार
हाथ में है तक़दीर का
नक्शा हो गया बेड़ा पार
अंतर मंतर जंतर से
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार

जब दूजा दरवाज़ा आया
उस पर देखा टाला
अकाल की चाबी लगा के हमने
मज़े से खोला टाला
फिर देखे चौबारे हमें जिन
पर था अँधियारा
फिर देखे चौबारे हमें जिन
पर था अँधियारा
दूर कही पर खिडकी चमकी
ज्यूँ बदली में तारा
अंतर मंतर जंतर से
आशाओं के दीप जलाए
हम भी हो गए पर
हाथ में है तक़दीर का
नक्शा हो गया बेड़ा पार
अंतर मंतर जंतर से
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार

गैरो के महल में पहुंचे
भेद चुराकर लाए
सब दरवाज़े चोर बने
थे चोरो से टकराए
चक्कर ने सौ चक्कर
डाले फिर भी ना घबराए
चक्कर ने सौ चक्कर
डाले फिर भी ना घबराए
जैसे चल कर हम पहुंचे
थे वैसे वापस आए
अंतर मंतर जंतर से
अपनी मज़िल जीत के ाए
ना माने हम हार
हाथ में है तक़दीर का
नक्शा हो गया बेड़ा पार
अंतर मंतर जंतर से
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार

हाथ में है तक़दीर का
नक्शा हो गया बेड़ा पार
अंतर मंतर जंतर से
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार
अंतर मंतर जंतर से
मैदान लिया है मार.