रब का शुकराना Rab Ka Shukrana Song Lyrics

Rab Ka Shukrana Song Lyrics

Rab Ka Shukrana Lyrics, from the movie Jannat 2. This song is sung by Mohit Chauhan and the movie was released in the year 2012. Music was composed by Pritam and lyrics were penned by Sanjay Mishra.

Movie Details

Movie: Jannat 2Singer/Singers: Mohit Chauhan

Music Director: Pritam

Lyricist: Sanjay Mishra

Year/Decade: 2012

Music Label: Sony Music India

Song Lyrics in English Text

Tu hai ab jo baahon mein, Qarar hai
Rab Ka Shukrana
Saanson mein hai nasha, Khumar hai
Rab Ka Shukrana
Tu hi ab mera deen hai, imaan hai
Rab Ka Shukrana
Mera kalma hai tu, Azaan hai
Rab Ka Shukrana
Rab Ka… …Shukrana

Tu mila toh sab mila
Ab kisi se kya gila
Tujhme simtu, aa main bikhru
Teri baahon mein….
Tu mila toh sab mila
Ab kisi se kya gila…
Tujhme simtu, aa main bikhru
Teri baahon mein fanaa ho jaaun main

Tu hi ab duniya meri, Jahaan hai
Rab Ka Shukrana
Khabon ki khayalon ki udaan hai
Rab Ka Shukrana

Tu hi ab mera deen hai, imaan hai
Rab Ka Shukrana
Mera kalma hai tu, Azaan hai
Rab Ka Shukrana

Sab se ho jaaun pare jo ishara tu kare
Abb toh rehna hai tujhi mein
Gumshuda hoon main
Sab se ho jaaun pare jo ishara tu kare
Abb toh rehna hai tujhi mein
Gumshuda hoon main
Ho teri baahon mein….

Jazbo ka toh naya bayaan hai
Rab Ka Shukrana
Naya rutba nayi shaan hai
Rab Ka Shukrana

Tu hi ab mera deen hai, imaan hai
Rab Ka Shukrana
Mera kalma hai tu, Azaan hai tu
Rab Ka Shukrana

Rab Ka…
Rab Ka…
Rab Ka… Shukrana

Song Lyrics in Hindi Text

तू है अब जो बाहों में करार है
रब का शुकराना
साँसों में है नशा खुमार है
रब का शुकराना
तू ही अब मेरा दिन है ईमान है
रब का शुकराना
मेरा कलमा है तू अज़ान है
रब का शुकराना
रब का.. शुकराना

तू मिला तो सब मिला
अब किसी से क्या गिला
तुझमे सिमटू आ मैं बिखरु
तेरी बाहों में..
तू मिला तो सब मिला
अब किसी से क्या गिला
तुझमे सिमटू आ मैं बिखरु
तेरी बाँहों में फ़ना हो जाऊं मैं

तू ही अब दुनिया मेरी, जहान है
रब का शुकराना
ख्वाबो की ख्यालो की उड़न है
रब का शुकराना
तू ही अब मेरा दिन है ईमान है
रब का शुकराना
मेरा कलमा है तू अज़ान है
रब का शुकराना

सब से हो जाऊं परे जो ईशारा तू करे
अब तो रहना है तुझी में
गुमशुदा हूँ मैं
सब से हो जाऊं परे जो ईशारा तू करे
अब तो रहना है तुझी में
गुमशुदा हूँ मैं
हो तेरी बाहों में..

जज्बों का तो नया बयान है
रब का शुकराना
नया रुतबा, नई शान है
रब का शुकराना
तू ही अब मेरा दिन है ईमान है
रब का शुकराना

मेरा कलमा है तू, अज़ान है तू
रब का शुकराना

रब का..
रब का..
रब का.. शुकराना